Home / Initiatives / States / West / Rajasthan / निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना: राजस्थान

निर्माण श्रमिक शिक्षा और कौशल विकास योजना: राजस्थान

इस योजना का शुभारंभ राजस्थान सरकार ने किया है, जिससे राज्य में निर्माण श्रमिकों और उनके परिवारों के बीच शिक्षा को बढ़ावा दिया जाए। इस योजना के तहत छात्रों को नकद छात्रवृत्ति देकर शिक्षा के प्रति आकर्षित करना है ।

पात्रता :

  • कर्मचारी निर्माण कामगार बोर्ड में पंजीकृत हो।
  • छात्र नियमित हो और संस्था किसी भी केन्द्र सरकार / राज्य सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त हो।
  • छात्र कक्षा 8वी से 12 वी तक 75% अंक प्राप्त किए हो।
  • चिकित्सा / इंजीनियरिंग में 60 % अंक प्राप्त किए हो।

आवेदन की अंतिम तिथि:  31 मार्च या परीक्षा के 6 महीने बाद।

लाभ:

निम्नलिखित छात्रवृति

       छात्रवृति राशि (रु में )
कक्षा 6 से 8 लड़का 8000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 9000
कक्ष 9 से 12 लड़का 9000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 10000
ITI लड़का 9000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 10000
डिप्लोमा लड़का 10000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 11000
स्नातक(सामान्य) लड़का 13000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 15000
स्नातक(प्रोफेसनल कोर्स ) लड़का 18000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 20000
पीजी  (सामान्य) लड़का 15000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 17000
पीजी (प्रोफेशनल कोर्स ) लड़का 23000
लड़कियाँ/ विशेष रूप से विकलांग 25000

 

मेधावी छात्रों के लिए नकद पुरस्कार

 

राशि(रु में )
कक्षा 8 से 10 4000
कक्षा 11 से 12 6000
डिप्लोमा 10000
स्नातक(सामान्य) 8000
पीजी  (सामान्य) 12000
स्नातक(प्रोफेसनल कोर्स ) 25000
पीजी (प्रोफेशनल कोर्स ) 35000

आवेदन के लिए : यहाँ क्लिक करे

अधिक जानकारी के लिए : यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करे समुदाय आधारित Join R App:

capture

 

Check Also

Kaushalya Karnataka Scheme : Programme of creating jobs for unemployed youths

  The Dakshina Kannada district administration on Monday formally launched a drive to enroll unemployed ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *